Ladakh Standoff: भारत से लगी सीमा को रेडॉर से पाट रहा चीनी ड्रैगन, सैटेलाइट से मिली तस्‍वीरों से बड़ा खुलासा

स्टोरी शेयर करें



पेइचिंग
पूर्वी लद्दाख में पिछले कई महीने से चल रहे तनाव के बीच चीनी ड्रैगन भारत से लगे वास्‍तविक नियंत्रण रेखा (LAC) को अत्‍याधुनिक रेडॉर से पाटने में लग गया है। सैटलाइट से मिली ताजा तस्‍वीरों में खुलासा हुआ है कि चीन अक्‍साई चिन से लेकर अरुणाचल प्रदेश की सीमा के पास तक अपने रेडॉर को अपग्रेड करने में जुट गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक भारत और चीन में अगर भविष्‍य में कोई झड़प या युद्ध हुआ तो ये रेडॉर भारतीय सेना के लिए बड़ा सिरदर्द साबित हो सकते हैं।

ओपन सोर्स इंटेलिजेंस detresfa की ओर से जारी सैटलाइट तस्‍वीर में चीन के रेडॉर स्‍टेशन साफ नजर आ रहे हैं। चीन न केवल नए रेडॉर स्‍टेशन बना रहा है, बल्कि पुराने को अपग्रेड कर रहा है। ये चीनी रेडॉर अक्‍साई चिन, हिमाचल प्रदेश- उत्‍तराखंड की सीमा, नेपाल सीमा, सिक्किम में डोकलाम, भूटान और अरुणाचल प्रदेश की सीमा के पास हैं। detresfa ने अपनी रिपोर्ट में कहा क‍ि लगातार रेडॉर स्‍टेशन और एयर ड‍िफेंस सिस्‍टम तैनात कर रहा चीन सीमा पर महत्‍वाकांक्षी क्षेत्रीय दावे रखता है। इससे लंबे समय तक क्षेत्रीय तनाव बना रह सकता है।

साउथ चाइना सी की रणनीति को दोहरा रहा है चीन
चीन की यह रणनीति कुछ उसी तरह से जैसे उसने दक्षिण चीन सागर में किया है। चीन की कोशिश है कि सीमा पर जंग की तैयारी इतनी बेहतर कर दो कि भारतीय सेना कभी भी भविष्‍य में सीमा विवाद होने पर हमला करने का साहस न कर सके। चीन ने इसी तरह से साउथ चाइना में कृत्रिम द्वीप बनाए और उस पर मिसाइलें तथा फाइटर जेट तैनात कर दिए हैं। चीन के इस कदम से वियतनाम और अन्‍य पड़ोसी देशों तथा ताइवान के लिए बड़ा खतरा पैदा हो गया है। चीन भारतीय सीमा पर बहुत तेजी से रेडॉर सिस्‍टम की तैनाती बढ़ा रहा है।

बता दें कि लद्दाख में भारतीय जमीन पर कब्‍जा करने की फिराक में लगा चीनी ड्रैगन समूचे उत्‍तर भारत से सटे अपने इलाकों में हवाई किलेबंदी को अत्‍याधुनिक बनाने में जुट गया है। चीन लद्दाख लेकर अरुणाचल प्रदेश की सीमा से लगे अपने इलाके में सात हवाई ठिकानों पर बड़े पैमाने पर सतह से हवा में मार करने में सक्षम मिसाइलें तैनात कर रहा है। चीन ने यह कदम ऐसे समय पर उठाया है जब भारत ने हाल ही में राफेल फाइटर जेट को शामिल किया है और इन्‍हें अंबाला में तैनात किया गया है।

अब चीन को भारत के हवाई हमले का डर सता रहा है। मीडिया में आई खबरों में यह भी जा रहा है कि चीन ने रूस से मिले अपने S-400 म‍िसाइल डिफेंस स‍िस्‍टम को भी यहां पर तैनात कर दिया है। ओपन सोर्स इंटेलिजेंस detresfa ने इस तस्‍वीर को जारी करके बताया कि भारत के हवाई हमले के खतरे को देखते हुए चीन भारत से लगी सीमा के हर कोने में अपनी मिसाइलों को तैनात कर रहा है। यही नहीं भारत से तनाव को देखते हुए अपने पुरानी मिसाइलों और प्रणाली को अपग्रेड करने में जुट गया है।

चीन ने 7 जगहों पर तैनात कीं SAM मिसाइलें
चीन ने लद्दाख से सटे अपने रुटोग काउंटी, नागरी कुंशा एयरपोर्ट, उत्‍तराखंड सीमा पर मानसरोवर झील, सिक्किम से सटे श‍िगेज एयरपोर्ट और गोरग्‍गर हवाई ठिकाने, अरुणाचल प्रदेश से सटे मैनलिंग और लहूंजे में सतह से हवा में मार करने वाली म‍िसाइलें तैनात की हैं। इन ठिकानों पर चार से पांच म‍िसाइल लॉन्‍चर तैनात हैं। इसके अलावा उनकी मदद के लिए रेडॉर और जेनेटर भी दिखाई दे रहे हैं। कुछ तस्‍वीरों में नजर आ रहा है कि चीनी मिसाइलें भारत से होने वाले किसी हवाई हमले के खतरे को देखते हुए पूरे अलर्ट मोड में है।



स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements
%d bloggers like this:
  • https://batve.com/cheapjerseys.html
  • https://batve.com/cheapnfljerseys.html
  • https://batve.com/discountnfljersey.html
  • https://booktwo.org/cheapjerseysfromchina.html
  • https://booktwo.org/wholesalejerseys.html
  • https://booktwo.org/wholesalejerseysonline.html
  • https://bjorn3d.com/boutiquedefootenligne.html
  • https://bjorn3d.com/maillotdefootpascher.html
  • https://bjorn3d.com/basdesurvetementdefoot.html
  • https://www.djtaba.com/cheapjerseyssalesonline.html
  • https://www.djtaba.com/cheapnbajersey.html
  • https://www.djtaba.com/wholesalenbajerseys.html
  • http://unf.edu.ar/classicfootballshirts.html
  • http://unf.edu.ar/maillotdefootpascher.html
  • http://unf.edu.ar/classicretrovintagefootballshirts.html
  • https://jkhint.com/cheapnbajerseysfromchina.html
  • https://jkhint.com/cheapnfljersey.html
  • https://jkhint.com/wholesalenfljerseys.html
  • https://www.sharonsalzberg.com/cheapnfljerseysfromchina.html
  • https://www.sharonsalzberg.com/nikenfljerseyschina.html
  • https://www.sharonsalzberg.com/wholesalenikenfljerseys.html
  • https://shoppingntoday.com/destockagerepliquesmaillotsfootball.html
  • https://shoppingntoday.com/maillotdefootpascher.html
  • https://shoppingntoday.com/footballdelargentinejersey.html
  • https://thetophints.com/maillotdeclub.html
  • https://thetophints.com/maillotdeenfant.html
  • https://thetophints.com/maillotdefootpascher.html
  • http://world-avenues.com/maillotdefemme.html
  • http://world-avenues.com/maillotdefootenfant.html
  • http://world-avenues.com/maillotdefootpascher.html
  • https://ganeshastudio.de
  • https://gapcertification.org
  • https://garagen-galerie.de
  • https://garderie-nitza.com
  • https://garderis.com
  • https://gartenmieten.de
  • http://garyivansonlaw.com
  • http://gastrojob24.com
  • https://gatepass.zauca.com
  • https://gaticargoshifting.com
  • https://gba-adviseurs.nl
  • http://geargnome.com
  • https://geboortelekkers.nl
  • http://gecomin.org
  • https://geekyexpert.com
  • https://gemstonescc.com
  • http://gemworldholdings.com
  • http://generacionpentecostal.com
  • https://generalcontractorgroup.com
  • https://genichikadono.com
  • https://georg-annaheim.com
  • https://georgiawealth.info
  • https://geosinteticos.com.ar
  • https://geronimoandchill.be
  • https://gestoyco.com
  • https://gezginyazar.com
  • https://gezinsbondmullem.be
  • http://giacchini.it
  • http://gianniautoleasing.iseo.biz
  • http://gigafiber.bg