Tonga Volcano Eruption: टोंगा में समुद्र के अंदर ज्वालामुखी विस्फोट के बाद टकराई सुनामी, नुकसान कितना हुआ?

स्टोरी शेयर करें



वेलिंगटन
न्यूजीलैंड के नजदीक स्थित देश के पास समुद्र में ज्वालामुखी विस्फोट हुआ है। जिसके बाद तट की ओर बढ़ती विशाल लहरों को देखते हुए सुनामी की चेतावनी जारी की गई। लोगों को बचाने के लिए नजदीक के ऊंचे स्थानों की ओर भेजा गया है। इन लहरों के कारण अभी तक जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है। इसका प्रमुख कारण यह है कि इस द्वीपीय देश में संचार की सेवाएं उतनी अच्छी नहीं हैं। यह विस्फोट टोंगा के हंगा टोंगा हंगा हापाई ज्वालामुखी में हुआ है।

सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो में बड़ी लहरें तटीय क्षेत्रों में घरों और इमारतों के चारों को दिख रही हैं। न्यूजीलैंड की सेना ने बताया कि वह हालात पर नजर रख रही है और जरूरत पड़ने पर यदि उसकी सहायता मांगी जाती है, तो वह तैयार है। उपग्रह से ली गई तस्वीर में दिख रहा है कि प्रशांत महासागर के नीले पानी के ऊपर मशरूम के आकार में राख, भाप और गैस का गुबार उठ रहा है।

ज्वालामुखी विस्फोट से सुनामी की चेतावनी
टोंगा मौसम विज्ञान सेवा ने बताया कि पूरे टोंगा के लिए सुनामी की चेतावनी लागू की गई है और प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र के आंकड़ों ने 80 सेंटीमीटर ऊंची लहरों का पता लगाया गया है। निकटवर्ती फिजी और समोआ में भी प्राधिकारियों ने चेतावनी जारी की है और लोगों को मजबूत एवं खतरनाक लहरों के मद्देनजर समुद्रतट के निकट जाने से बचने की हिदायत दी है। टोंगा में करीब 1,05,000 लोग रहते हैं।

जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी ने बताया कि जापान के तट के नजदीक जलस्तर में हल्की वृद्धि हो सकती है लेकिन इससे नुकसान होने की उम्मीद नहीं है। आइलैंड बिजनेस समाचार साइट ने बताया कि पुलिस और सैन्य बलों के एक काफिले ने टोंगा के राजा टुपो षष्ठम को समुद्र तट के पास स्थित उनके महल से बाहर निकाला। राजा टुपो छठवें समेत कई निवासियों को ऊपरी इलाकों में ले जाया गया है।

आसमान से बरस रहे कंकड़-पत्थर और राख
डॉ. फाकाइलोएटोंगा ताउमोएफोलाउ नामक एक ट्विटर यूजर ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें लहरें किनारे को पारकर रिहायशी क्षेत्र में जाती दिख रही हैं। उसने लिखा कि ज्वालामुखी फटने की आवाज को वास्तव में सुन सकता हूं, यह बहुत खतरनाक लग रहा है। राख और छोटे-छोटे कंकड़ बरस रहे हैं, आसमान में अंधकार छा गया है। इससे पहले माटांगी टोंगा न्यूज साइट ने बताया कि वैज्ञानिकों ने शुक्रवार तड़के ज्वालामुखी के सक्रिय होने के बाद जबर्दस्त विस्फोट, गरज और बिजली गिरने की घटनाएं देखीं।

सैटेलाइट तस्वीरों में समुद्र में उठता दिखा धुएं का गुबार
उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों में धुएं का गुबार आसमान में लगभग 20 किलोमीटर (12 मील) की ऊंचाई तक उठता दिख रहा है। वहीं, 2,300 किलोमीटर (1,400 मील) से अधिक दूरी पर स्थित न्यूजीलैंड में अधिकारियों ने विस्फोट से तूफान आने की चेतावनी दी है। नेशनल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी ने कहा कि बड़े ज्वालामुखी विस्फोट के बाद न्यूजीलैंड के कुछ हिस्सों में तटों पर ‘‘मजबूत और असामान्य लहरें अप्रत्याशित उछाल से साथ आ सकती हैं।

शनिवार को प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने बताया कि लगता है कि अमेरिकी सामोआ पर सुनामी का खतरा टल गया है , हालांकि, समुद्र में हल्के उतार-चढ़ाव जारी रहेंगे। यह ज्वालामुखी राजधानी नुकुअलोफा से लगभग 64 किलोमीटर (40 मील) उत्तर में स्थित है। इससे पहले, 2014 के अंत में और 2015 की शुरुआत में इस इलाके में ज्वालामुखी विस्फोटों की एक श्रृंखला के कारण एक छोटा नया द्वीप बना था और प्रशांत द्वीपसमूह राष्ट्र के लिए अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा कई दिनों तक बाधित रही थी।


Facebook Notice for EU! You need to login to view and post FB Comments!

स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements
%d bloggers like this: