फोन को खराब कर सकता है ऐसा स्क्रीन गार्ड! तुरंत हटा दें, Xiaomi की चेतावनी

स्टोरी शेयर करें

Xiaomi की सब्सिडियरी कंपनी Redmi ने स्मार्टफोन पर कॉमन पाए जाने वाले स्क्रीन गार्ड को लेकर यूजर अलर्ट जारी किया है। कंपनी ने बताया है कि आमतौर पर यूजर जिस तरह के स्क्रीन गार्ड का इस्तेमाल करते हैं, इससे डिस्प्ले को नुकसान पहुंच सकता है। साथ ही यह डिवाइस की वारंटी को भी प्रभावित कर सकता है। यानी कि अगर यूजर के फोन पर इस तरह का स्क्रीन प्रोटेक्टर पाया जाता है, तो यह वारंटी के लिए ठीक नहीं है। आइए जानते हैं डिटेल में, कि शाओमी की ओर से ऐसा अलर्ट क्यों जारी किया गया है। 

Redmi India ने अपने सोशल मीडिया हैंडल से एक मैसेज यूजर्स के लिए जारी किया है। कंपनी कह रही है कि स्मार्टफोन डिस्प्ले प्रोटेक्शन के लिए आमतौर पर यूजर लिक्विड यूवी (Liquid UV) एडेसिव प्रोटेक्टर इस्तेमाल करते हैं। ऐसे प्रोटेक्टर कर्व्ड डिस्प्ले के लिए भी ज्यादा इस्तेमाल किए जाते हैं क्योंकि ये डिस्प्ले पर ज्यादा अच्छे तरीके से चिपक सकते हैं। लेकिन कंपनी के अनुसार, ऐसे स्क्रीन गार्ड के इस्तेमाल से यूजर्स को बचना चाहिए। 

Redmi ने मैसेज में लिखा है कि लिक्विड यूवी स्क्रीन गार्ड डिवाइस की काम करने की क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं। साथ ही ये वारंटी को भी प्रभावित कर सकते हैं। कंपनी के अनुसार, इनमें इस्तेमाल होने वाला लिक्विड एडेसिव स्मार्टफोन डिवाइस के अंदर तक पहुंच सकता है और अन्य पार्ट्स को खराब कर सकता है, जिसमें फिजिकल की, चार्जिंग पोर्ट, स्पीकर होल, और बैटरी कवर भी शामिल हैं। इसकी वजह से फोन के फंक्शन खराब हो सकते हैं। यह बिना वजह री-स्टार्ट होना शुरू कर सकता है, बटन काम छोड़ सकते हैं, स्पीकर में समस्या आ सकती है, और बैटरी कवर पर लगा लैदर भी छूट सकता है। 

कंपनी ने इसके विकल्प चुनने की बात कही है। जिसमें कहा गया है कि लिक्विड यूवी की बजाए टेम्पर्ड ग्लास, नॉन टेम्पर्ड ग्लास या फिर इलेक्ट्रोस्टेटिक फिल्म का इस्तेमाल डिस्प्ले प्रोटेक्शन के लिए करना चाहिए। इनमें यूवी आधारित एडेसिव की जरूरत नहीं होती है। जिससे कि डिवाइस परफॉर्मेंस पर इनका असर नहीं होता है। 

Redmi Note 13 Pro+ यूजर्स के लिए ऑफर
Redmi Note 13 Pro+ यूजर्स के लिए कंपनी कॉम्पलिमेंट्री स्क्रीन प्रोटेक्टर ऑफर को एक्सटेंड कर रही है। साथ ही इंस्टॉलेशन सर्विस ऑफर भी है। यूजर इसका लाभ ले सकते हैं। 
 <!–

–>


स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements