धरती से 400km ऊपर अंतरिक्ष से रात में कैसी दिखती है पृथ्‍वी? Nasa ने शेयर की फोटो, जानें डिटेल

स्टोरी शेयर करें

अमेरिकी स्‍पेस एजेंसी नासा (Nasa) हमारे ब्रह्मांड की नई-नई तस्‍वीरें शेयर करती रहती है। जेम्‍स वेब टेलीस्‍कोप से लेकर हबल टेलीस्‍कोप और तमाम दूरबीनों की मदद से इमेजेस को कैप्‍चर किया जाता है। धरती से 400 किलोमीटर ऊपर पृथ्‍वी का चक्‍कर लगा रहा इंटरनेशनल स्‍पेस स्‍टेशन भी अंतरिक्ष और पृथ्‍वी को एक्‍स्‍प्‍लोर कर रहा है। इतनी ऊंचाई से रात में पृथ्‍वी कैसी दिखती है, यही नासा की नई तस्‍वीर में दिखाया गया है। फोटो में रात में जगमगाते हमारे ग्रह के अलावा आकाश में चमकते चांद को देखा जा सकता है।   

नासा ने इंस्‍टाग्राम पर यह तस्‍वीर शेयर की है। लेटेस्‍ट पोस्‍ट से पता चला है कि यह फोटो 14 नवंबर को इंटरनेशनल स्‍पेस स्‍टेशन से ली गई थी। तब आईएसएस अमेरिका के ऊपर पृथ्‍वी से करीब 418 किलोमीटर की ऊंचाई पर था। नासा ने लिखा- ऑर्बिटल रात के दौरान स्‍पेस स्‍टेशन से पृथ्‍वी का एक दृश्‍य। तस्‍वीर में देखा जा सकता है कि चंद्रमा पृथ्‍वी के ऊपर चमक रहा है। नीचे ट‍िमटिमाती लाइट्स बताती हैं कि वह जगह पृथ्‍वी की सतह है। 
 

नासा के अनुसार इस तस्‍वीर में क्षितिज के पास जो ज्‍यादा रोशनी है, वह शिकागो शहर है। नीचे की तरफ बाईं ओर दिख रही ज्‍यादा रोशनी अमेरिका का डेनवर शहर है। तस्‍वीर की सबसे बड़ी खूबी है कि इसमें एयरग्‍लो (Airglow) बन रहा है, जो पृथ्‍वी के ऊपर पीली लाइननुमा रोशनी है। एयरग्‍लो दिखते तो ऑरोरा जैसे हैं, लेकिन इनके बनने की प्रक्रिया अलग होती है। 

नासा के अनुसार, ऑरोरा के निर्माण में सौर हवाओं की भूमिका अहम होती है, जबकि एयरग्‍लो दिन-प्रतिदिन के सोलर रेडि‍एशन का नतीजा होते हैं। एयरग्‍लो के निर्माण में ऊपरी वायुमंडल का तापमान, डेंसिटी और कणों की संरचना अहम भूमिका निभाती है। 

बहरहाल, नासा की यह तस्‍वीर यूजर्स को काफी पसंद आ रही है। इसे 7.8 लाख से ज्‍यादा लाइक्‍स और कई कमेंट अबतक मिले हैं। एनडीटीवी के अनुसार, कई यूजर्स ने तस्‍वीर को अद्भुत और तो कई ने इसे सुंदर बताया। कुछ दिनों पहले ही नासा ने स्‍पेस स्‍टेशन से ली गई एक तस्‍वीर शेयर की थी, जिसमें ऑरोरा को कैप्‍चर किया गया था। वह ऑरोरा अमेरिका के यूटा के आसमान में कैप्‍चर हुआ था। 
 <!–

–>


स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements