Villagers Condition For Voting: ग्रामीणों ने वोट डालने के लिए रखी शर्त, बूथ तक जाने के लिए हवाई जहाज की व्यवस्था करे सरकार

स्टोरी शेयर करें

हरिओम सिंह, रीवाः मध्य प्रदेश में पंचायत चुनावों की गर्माहट बढ़ने के साथ रीवा जिले से अनोखा मामला सामने आया है। यहां के सेंदहा ग्राम पंचायत के दो गांवों के लोगों ने शर्त रख दी है कि सरकार पोलिंग बूथ तक जाने के लिए उनके लिए हवाई जहाज या हेलीकॉप्टर की व्यवस्था करे, नहीं तो वे मतदान नहीं करेंगे। गांव के लोगों का कहना है कि उनके गांव में अब तक पक्की सड़क नहीं है। हर चुनाव से पहले प्रत्याशी गांव में आते हैं और सड़क बनवाने का वादा करते हैं। चुनाव जीतते ही वे अपना वादा भूल जाते हैं। इसलिए उन्होंने इस बार यह शर्त रख दी है।

पोलिंग बूथ तक पहुंचने के लिए सड़क नहीं
सेंदहा ग्राम पंचायत रीवा जिले के गंगेव जनपद में स्थित है। यहां के सेंदहा और भमरिया गांवों में सरकार और स्थानीय नेताओं के खोखले दावों से नाराज ग्रामीणों ने त्रिस्तरीय पंचायत में वोट डालने के लिए हेलीकॉप्टर या फिर हवाई जहाज की मांग की है। ग्रामीणों ने सरकार से यह अनोखी मांग इसलिए की है क्योंकि गांव से पोलिंग बूथ तक पहुंच मार्ग की हालत बेहद खराब है। बारिश के दिनों में चुनाव के दौरान ग्रमीणों के लिए पोलिंग बूथ तक पहुंचना और भी मुश्किल होगा। सेंदहा से नेवरिया गांव के पोलिंग बूथ पहुंच कर वोट डालने के लिए हेलीकॉप्टर या हवाई जहाज की आवश्यकता पड़ेगी। सरकार उनकी मांग पूरी करे नहीं तो वे वोट डालने से वंचित रह जाएंगे।

बरसात में गांव से निकलना दूभर
रीवा जिले में कुछ ऐसी ग्राम पंचायतें हैं जो आजादी के 75 वर्ष बीत जाने के बाद भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। चुनाव नजदीक आते ही क्षेत्र के नेता वोट मांगने जनता के बीच जाते हैं और तमाम वादे करते हैं। चुनाव सम्पन्न होते ही वे जनता से किया हुआ वादा भूल जाते हैं। सेंदहा ग्राम पंचायत के कई गांवों में आज भी आने-जाने के लिए पक्की सड़क नहीं है। हालात ऐसे हैं कि ग्रामीणों के लिए बरसात के दिनों में तीन से चार महीने तक गांव से बाहर निकला दूभर होता है। इसलिए, इस बार उन्होंने चुनाव से पहले ही अपनी शर्त सरकार के सामने रख दी है।

गांव से दूर बूथ होने से भी नाराज हैं ग्रामीण
मामला केवल सड़क का ही नहीं है। राजनीतिक रसूख के चलते कुछ सरपंच प्रत्याशियों ने सेंदहा और भमरिया गांव के पोलिंग बूथ क्रमांक 97 को बदलकर नेवरिया में करवा दिया था। जिस प्रत्याशी के कहने पर ऐसा किया गया, उसके सेंदहा गांव में कम समर्थक माने जाते हैं। सेंदहा और भमरिया गांव के लोगों ने इसकी शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों से की तो मनगवां के एसडीएम श्री ए के सिंह को जांच कर तीन दिन के अंदर रिपोर्ट देने को कहा गया। एसडीएम जांच के लिए सेंदहा और भमरिया गांवों में गए ही नहीं। वे केवल नेवरिया गए और वहां के लोगों से ही पंचनामा पर हस्ताक्षर करवाकर रिपोर्ट दे दी कि पोलिंग बूथ नहीं बदला जाए। इससे इन दोनों गांवों के लोगों का गुस्सा और भड़क गया। उनका कहना है कि उनके लिए पोलिंग बूथ सेंदहा में बनाया जाए।

रख दी अनोखी शर्त
रोचक यह भी है कि सेंदहा और भमरिया में कुल 409 वोटर्स हैं जिनमें 85 प्रतिशत से ज्यादा हरिजन और आदिवासी हैं। वहीं, नेवरिया में कुल 373 वोटर हैं जिनमें अधिकतर सामान्य वर्ग के हैं। अपनी मांग नहीं माने से नाराज भमरिया और सेंदहा के लोगों का कहना है कि सरकार पोलिंग बूथ तक पहुंचने के लिए या तो सुगम रास्ते की व्यवस्था करे या फिर हेलीकॉप्टर या हवाई जहाज का इंतेजाम करवाए।

अब समाधान का भरोसा दे रहे अधिकारी
इस मामले को लेकर अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें मीडिया के जरिए गांव वालों की मांग के बारे में पता चला है। इसकी जांच कराई जाएगी। ग्रामीणों के साथ चर्चा कर उनकी समस्या का समाधान करने की कोशिश होगी।


स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements
%d bloggers like this:
  • https://batve.com/cheapjerseys.html
  • https://batve.com/cheapnfljerseys.html
  • https://batve.com/discountnfljersey.html
  • https://booktwo.org/cheapjerseysfromchina.html
  • https://booktwo.org/wholesalejerseys.html
  • https://booktwo.org/wholesalejerseysonline.html
  • https://bjorn3d.com/boutiquedefootenligne.html
  • https://bjorn3d.com/maillotdefootpascher.html
  • https://bjorn3d.com/basdesurvetementdefoot.html
  • https://www.djtaba.com/cheapjerseyssalesonline.html
  • https://www.djtaba.com/cheapnbajersey.html
  • https://www.djtaba.com/wholesalenbajerseys.html
  • http://unf.edu.ar/classicfootballshirts.html
  • http://unf.edu.ar/maillotdefootpascher.html
  • http://unf.edu.ar/classicretrovintagefootballshirts.html
  • https://jkhint.com/cheapnbajerseysfromchina.html
  • https://jkhint.com/cheapnfljersey.html
  • https://jkhint.com/wholesalenfljerseys.html
  • https://www.sharonsalzberg.com/cheapnfljerseysfromchina.html
  • https://www.sharonsalzberg.com/nikenfljerseyschina.html
  • https://www.sharonsalzberg.com/wholesalenikenfljerseys.html
  • https://shoppingntoday.com/destockagerepliquesmaillotsfootball.html
  • https://shoppingntoday.com/maillotdefootpascher.html
  • https://shoppingntoday.com/footballdelargentinejersey.html
  • https://thetophints.com/maillotdeclub.html
  • https://thetophints.com/maillotdeenfant.html
  • https://thetophints.com/maillotdefootpascher.html
  • http://world-avenues.com/maillotdefemme.html
  • http://world-avenues.com/maillotdefootenfant.html
  • http://world-avenues.com/maillotdefootpascher.html
  • https://ganeshastudio.de
  • https://gapcertification.org
  • https://garagen-galerie.de
  • https://garderie-nitza.com
  • https://garderis.com
  • https://gartenmieten.de
  • http://garyivansonlaw.com
  • http://gastrojob24.com
  • https://gatepass.zauca.com
  • https://gaticargoshifting.com
  • https://gba-adviseurs.nl
  • http://geargnome.com
  • https://geboortelekkers.nl
  • http://gecomin.org
  • https://geekyexpert.com
  • https://gemstonescc.com
  • http://gemworldholdings.com
  • http://generacionpentecostal.com
  • https://generalcontractorgroup.com
  • https://genichikadono.com
  • https://georg-annaheim.com
  • https://georgiawealth.info
  • https://geosinteticos.com.ar
  • https://geronimoandchill.be
  • https://gestoyco.com
  • https://gezginyazar.com
  • https://gezinsbondmullem.be
  • http://giacchini.it
  • http://gianniautoleasing.iseo.biz
  • http://gigafiber.bg