MP NEWS : पश्चिम बंगाल से नाबालिग लड़की को अगवा कर गुजरात ले जा रहा था आरोपी, इंदौर पुलिस ने छुड़ाया

स्टोरी शेयर करें


इंदौर

मध्‍य प्रदेश (Madhya pradesh) की इंदौर पुलिस (Indore Police) ने एक नाबालिग लड़की को तस्‍करों के चंगुल से छुड़ाया है। पुलिस ने रेस्‍कयू कर 48 घंटे के अंदर नाबालिग को सुरक्षित बचाया है। पश्चिम बंगाल से नाबालिग को अगवा कर मानव तस्‍करी के लिए गुजरात ले जा रहे थे। पुलिस ने सूचना के आधार पर टीम गठित कर नाबालिग को तस्‍करों से आजाद कराया, साथ ही पुलिस ने आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। इस सराहनीय कार्य के बाद एनसीपीसीआर के चेयरपर्सन प्रियंक कानूनगो ने उन्हें ट्वीट कर बधाई भी दी है।

दरअसल, पश्चिम बंगाल के हेमताबाद थाना पुलिस ने दिल्ली की एक मिशन मुक्ति फाउंडेशन को एक पत्र लिखकर जानकारी दी थी कि बंगाल के उत्तर दिनाजपुर से एक 15 साल की नाबालिग 10 जनवरी को ट्यूशन के लिये निकली थी उसके बाद घर नहीं लौटी है। मिशन मुक्ति फाउंडेशन मानव तस्करी रोकने के लिये कार्य करता है। इन्वेस्टिगेशन के दौरान जानकारी मिली कि नाबालिग आरोपी के साथ गुजरात के रूट पर है जिसके बाद प्रियंक कानूनगो ने गुजरात पुलिस को अलर्ट कर दिया। इसी बीच सूचना मिली कि सुबह नाबालिग ने इंदौर स्टेशन से एक महिला का फोन लेकर अपने दादा को फोन किया और बताया कि वह छोटी गवालटोली क्षेत्र में है और उसे गुजरात ले जाया जा रहा है।

Gujarat news: वडोदरा में बस में खींचकर 16 साल की आद‍िवासी लड़की से रेप, नाबालिग आरोपी गिरफ्तार

जिसके बाद एनसीपीसीआर और मिशन मुक्ति के डायरेक्टर वीरेंद्र सिंह ने छोटी ग्वालटोली टीआई सविता चोधरी से सम्पर्क किया और पूरी घटना बताई। पुलिस ने गुजरात और राजकोट जाने वाली सभी बसों की चेकिंग की । चेकिंग के दौरान कॉन्स्टेबल पंकज को पता चला कि नाबालिग और आरोपी तीन इमली बस स्टैंड से राजकोट की बस में बैठे है। बस के कंडक्टर से सम्पर्क किया तो पता चला कि धार के नोगांव से नाबालिग और आरोपी बस में सवार है। जिसके बाद नोगांव पुलिस ने नाबालिग और आरोपी को बरामद किया।

Delhi News: 5 महीने से किडनैपर्स की कैद में फंसी नाबालिग ने यूं बचाई अपनी जान, तीन आरोपी गिरफ्तार
पुलिस ने नाबालिग के बयान लिए गए। जहां खुलासा हुआ कि फेसबुक पर दूसरा फ़ोटो लगाकर आरोपी ने नाबालिग को झांसा दिया कि तुम्‍हें सिंगर बनाऊंगा। इसके बाद जब नाबालिग मिलने पहुंची तो जबर्दस्ती उसे धमका कर अपने साथ ले आया। नाबालिग के पिता ने इसके बाद 10 जनवरी को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।

घरवालों ने नहीं स्वीकारा तो भागकर मंदिर में भरी मांग, पिकअप पलटते ही शराब लूटने की मची होड़​… पढ़िए नवादा की बड़ी खबरें
इस मामले में एनसीपीसीआर के अध्यक्ष ने ट्वीट कर टीआई सविता चौधरी और उनकी टीम और मिशन मुक्ति फाउंडेशन के सराहनीय कार्य के लिए बधाई भी दी है। इंदौर की छोटी ग्वाल टोली पुलिस के सहयोग और सजगता से नाबालिग के साथ किसी भी अनहोनी से पहले उसका रेस्क्यू कर लिया गया है और आरोपी भी गिरफ्तार हो चुका है। वहीं पश्चिम बंगाल पुलिस की एक टीम और नाबालिग के पिता उसे लेने के लिए रवाना हो गए है।



स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements
%d bloggers like this: