साबुन बेचकर स्कूल जाने को थे मजबूर, आज इंडस्ट्री में जाने जाते हैं सबसे बड़े विलेन | read gulshan grover struggle story from book bad man | Patrika News

स्टोरी शेयर करें



गुलशन ग्रोव ने न सिर्फ अपनी जबरदस्त एक्टिंग से बल्कि अपने लुक से भी लोगों के बीच में डर कायम करके रखा था। बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड, जर्मन, ऑस्ट्रेलियन और ब्रिटेन की फिल्मों अपना परचम लहरा चुके उन्हीं गुलशन ग्रोवर पर एक किताब लिखी गई हैं किताब का नाम है बैड मैन। बता दें कि ये उनकी एक फिल्म का बेहद ही फेमस डायल़ॉग है।

उनकी इस किताब में उनकी जिंदगी से जुड़े कई किस्से शेयर किए गए हैं। ऐसी कई बातें बताई गई हैं जो इंडस्ट्री में क्या, बाहरी दुनिया में उनके फैंस को भी पता नहीं होंगी। बता दें कि इंडस्ट्री के मोस्ट फेवरेट विलेन ने अपने फिल्मी करियर में 400 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया है, लेकिन आज जिस शोहरत का मजा वो ले रहे हैं उसके पीछे बहुत संघर्ष छुपा हुआ है और इन्हीं संघर्ष का खुलासा उन्होंने अपनी किताब में किया है।

गुलशन में बताया कि उनका स्कूल दोपहर को होता था, लेकिन वे सुबह ही बस्ते में स्कूल की यूनिफॉर्म रखकर घर से निकल जाया करते थे। वे हर सुबह अपने घर से दूर बड़ी-बड़ी कोठियों में बर्तन और कपड़े धोने वाले डिटर्जेंट पाउडर बेचा करते थे। अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने मुम्बई का रुख करने का मन बना लिया था। वे एक्टिंग में अपना करियर बनाना चाहते थे।

यह भी पढ़ेंः भारती सिंह ने छोड़ दिया अपना घर, क्यों बनाया इस जगह को अपना ठिकाना ?

बता दें कि गुलशन ग्रोवर ने दिल्ली विश्वविद्यालय के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से मास्टर्स की पढ़ाई की हुई है, लेकिन इसके लिए भी उन्होंने काफी मशक्कत की है। अपनी बायोग्राफी में मुंबई जाने की बात पर गुलशन ग्रोवर ने लिखा है, ‘जब पहली बार मैं मुंबई आया था, तब घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। जिसकी वजह से मेरी मां को अपने गहने और पिता को घर गिरवी रखना पड़ा था, लेकिन ना कामयाबी मिलने पर मुझे वापस घर जाना पड़ा।



स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements
%d bloggers like this: