विदेशी मुद्रा भंडार में 2.56 अरब डॉलर की बढ़ोतरी, कुल जमा भंडार 581.131अरब डॉलर हुआ

स्टोरी शेयर करें

  • कोरोना वायरस के प्रहार के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) अधिकतर अनुमानों के मुकाबले तेजी से उबर रही है.
  • आरबीआई के बुलेटिन में ‘अर्थव्यवस्था की स्थिति’ शीर्षक से एक आर्टिकल में कहा गया है कि तीसरी तिमाही (Q3) में अर्थव्यवस्था पॉजिटिव दायरे में आ सकती है.

नई दिल्ली. कोरोना महामारी और आर्थिक मंदी के दौर में एक अच्छी खबर आई है. देश का विदेशी मुद्रा भंडार 18 दिसंबर को समाप्त सप्ताह में 2.563 अरब डॉलर बढ़कर 581.131 अरब डालर की नयी रिकार्ड ऊंचाई पर पहुंच गया. इससे पिछले सप्ताह विदेशी मुद्रा भंडार 77.8 करोड़ डॉलर घटकर 578.568 अरब डॉलर पर था. भारतीय रिजर्व बैंक के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (एफसीए) में बढ़ोतरी आने के कारण मुद्रा भंडार में तेजी दर्ज की गई.

स्वर्ण भंडार 37.020 अरब डॉलर हुआ- विदेशीमुद्रा परिसंपत्तियां, कुल विदेशी मुद्रा भंडार का अहम हिस्सा होती है. रिजर्व बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार समीक्षावधि में एफसीए 1.382 अरब डॉलर बढ़कर 537.727 अरब डॉलर हो गयीं. एफसीए को दर्शाया डॉलर में जाता है, लेकिन इसमें यूरो, पौंड और येन जैसी अन्य विदेशी मुद्राएं भी शामिल होती है.

आंकड़ों के अनुसार 18 दिसंबर को समाप्त सप्ताह हुए समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान देश का स्वर्ण भंडार का मूल्य 1.008 अरब डॉलर बढ़कर 37.020 अरब डॉलर हो गया. देश को अंतरराष्ट्रीय मु्द्रा कोष (आईएमएफ) में मिला विशेष आहरण अधिकार 1.2 करोड़ डॉलर की बढ़त के साथ 1.515 अरब डॉलर और आईएमएफ के पास जमा मुद्रा भंडार भी 16 करोड़ डॉलर बढ़कर 4.870 अरब डॉलर हो गया.

अर्थव्यवस्था में मिले सुधार के संकेत- कोरोना वायरस के प्रहार के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) अधिकतर अनुमानों के मुकाबले तेजी से उबर रही है. आरबीआई के बुलेटिन में ‘अर्थव्यवस्था की स्थिति’ शीर्षक से एक आर्टिकल में कहा गया है कि तीसरी तिमाही (Q3) में अर्थव्यवस्था पॉजिटिव दायरे में आ सकती है. इस बुलेटिन में कहा गया है कि ऐसे कई उदाहरण हैं, जिनसे इस बात के संकेत मिलते हैं कि भारतीय अर्थव्यवस्था कोविड-19 की मार से तेजी से उबर रही है. अर्थव्यवस्था की यह रफ्तार अधिकतर अनुमानों से कहीं बेहतर है.


स्टोरी शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Pin It on Pinterest

Advertisements
%d bloggers like this: